Sangya kise kahate hain – संज्ञा किसे कहते हैं उदाहरण सहित जाने

Sangya kise kahate hain: आज की पोस्ट में हम हिंदी व्याकरण में महत्वपूर्ण टॉपिक संज्ञा पर चर्चा करेंगे (संज्ञा किसे कहते हैं), संज्ञा का अर्थ (संज्ञा का अर्थ | Sangya ka arth) | आप इस पर बहुत अच्छी तरह से चर्चा करेंगे इस विषय से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न लेख के अंत में सूचीबद्ध हैं। | Sangya kise kahate hain?

Also Read: वाक्य के कितने भेद होते हैं

आज के इस ब्लोग में हम संज्ञा से जुडी निम्न बिंदुओं चर्चा करेंगे

  1. संज्ञा किसे कहते हैं
  2. संज्ञा के प्रकार
  3. व्यक्तिवाचक संज्ञा किसे कहते हैं | Sangya kise kahate hain
  4. जातिवाचक संज्ञा किसे कहते हैं | Sangya kise kahate hain
  5. समूहवाचक संज्ञा किसे कहते हैं | Sangya kise kahate hain
  6. द्रव्यवाचक संज्ञा किसे कहते हैं | Sangya kise kahate hain
  7. भाववाचक संज्ञा किसे कहते हैं | Sangya kise kahate hain

Sangya kise kahate hain | संज्ञा किसे कहते हैं | संज्ञा की परिभाषा

किसी व्यक्ति के स्थान या वस्तु के नाम को संज्ञा कहते हैं। उदाहरण: एक चीज में एक गुणवत्ता (डर) शामिल है एक
सामग्री (सोना), एक संग्रह (झुंड, सेना), एक राज्य (पालन) और एक क्रिया (धोखा,नकली, आंदोलन)

Sangya kise kahate hain - संज्ञा किसे कहते हैं उदाहरण सहित जाने

संज्ञा के प्रकार | Sangya ke prakar

संज्ञा पाँच प्रकार की होती है –

  1. व्यक्तिवाचक संज्ञा
  2. जातिवाचक संज्ञा
  3. समूहवाचक संज्ञा
  4. द्रव्यवाचक संज्ञा
  5. भाववाचक संज्ञा
See also  Balak Shabd Roop - बालक शब्द के रूप जानें | in sanskrit

1. व्यक्तिवाचक संज्ञा किसे कहते हैं | Sangya kise kahate hain

जिन शब्दों से किसी विशेष व्यक्ति, स्थान अथवा वस्तु के नाम का बोध हो, उसे व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं।
उदाहरण- जयपुर, दिल्ली, भारत, रामायण, अमेरिका, राम इत्यादि।

2. जातिवाचक संज्ञा किसे कहते हैं | Sangya kise kahate hain

जिस शब्द से किसी प्राणी या वस्तु की समस्त जाति का बोध होता है,उन शब्दों को जातिवाचक संज्ञा कहते हैं।
उदाहरण- घोड़ा, फूल, मनुष्य,वृक्ष इत्यादि।

3. समूहवाचक संज्ञा किसे कहते हैं | Sangya kise kahate hain

जब किसी संज्ञा शब्द से व्यक्ति या वस्तु के समूह का बोध होता है तब उसे समूहवाचक संज्ञा कहते हैं।
उदाहरण- परिवार, कक्षा, सेना, भीड़, पुलिस आदि।

4. द्रव्यवाचक संज्ञा किसे कहते हैं | Sangya kise kahate hain

जब किसी संज्ञा शब्द से किसी द्रव्य का बोध हो तो उसे द्रव्यवाचक संज्ञा कहते हैं।
उदाहरण- पानी, लोहा, तेल, घी, दाल, इत्यादि।

5 भाववाचक संज्ञा किसे कहते हैं | Sangya kise kahate hain

जिस संज्ञा शब्द से पदार्थों की अवस्था, गुण-दोष, भाव या दशा, धर्म आदि का बोध हो उसे भाववाचक संज्ञा कहते हैं।
उदाहरण- बुढ़ापा, मिठास, बचपन, मोटापा, चढ़ाई, थकावट आदि।

NOTE : लिखा गया सारा ब्लॉग NCRT हिंदी की पाठ्यपुस्तक से हूबहू कॉपी किया गया है।


Leave a Comment